Hindi tips to enhance penis size using herbs – जड़ीबूटियों से गुप्तांग का आकार बढ़ाने के उपाय

अगर आप अपने गुप्तांग के आकार में वृद्धि करना चाहते हैं तो ऐसी कई जड़ीबूटियां हैं जिनका आप प्रयोग कर सकते हैं जो गुप्तांग में रक्त के संचार में वृद्धि करते हैं और इसे अस्थायी भाव से पूरी तरह उत्तेजित बनाने में मदद करते हैं। गुप्तांग की  लंबाई और चौड़ाई बढ़ाने के स्थायी प्राकृतिक उपायों में खानपान में बदलाव करना, अधिक व्यायाम करना और अपने शरीर के मध्य भाग का वज़न कम करने के उपाय शामिल हैं। ये सारे उपाय शल्य क्रिया के मुकाबले काफी प्रभावी और आसान साबित होते हैं। नीचे बिना किसी दवा या शल्य क्रिया के माध्यम से गुप्तांग का आकार बढ़ाने के उपाय दिए गए हैं।

जड़ीबूटियों के माध्यम से गुप्तांग में रक्त का संचार करना (Increase blood flow in penis using herbs)

1. जिनसेंग का प्रयोग करें (Ginseng herb)

लाल जिनसेंग जिनसेनोसाइड्स (ginsenosides), जो कि पौधे का प्राकृतिक भाग होता है, के माध्यम से आपके शरीर की तंत्रिका प्रणाली को शक्ति प्रदान करता है। वैसे तो इस बात का कोई वैज्ञानिक सबूत नहीं है कि जिनसेंग से आपका गुप्तांग आकार में बड़ा होता है, लेकिन जिन पुरुषों ने जिनसेंग के अंश वाली टेबलेट्स (tablets) का दक्षिण कोरिया में हो रहे एक शोध के दौरान प्रयोग किया, उन्हें कुछ हफ़्तों तक यह पूरक उत्पाद लेने के पश्चात अपनी सम्भोग की काबिलियत में इज़ाफ़ा नज़र आया।

  • जिनसेंग बहुत सी दवाइयों के साथ लेने पर आपके शरीर पर नकारात्मक प्रभाव डालता है, खासकर तब जब आप कैंसर (cancer), दिल की बीमारी, नींद ना आने की बीमारी और अन्य किसी बीमारी से पीड़ित हों। अतः एक बार जिनसेंग रोज़ाना लेने से पहले अपने डॉक्टर से बात अवश्य कर लें।
  • अगर आप जिनसेंग के पूरक उत्पाद लेने की सोच रहे हैं तो कोरियाई जिनसेंग की जड़ की खोज करें और प्रतिदिन इसके 500 मिलीग्राम का सेवन करें।
  • क्योंकि FDA आयुर्वेदिक पूरक पदार्थ लेने का समर्थन नहीं करती है, अतः इन्हें लेना हमेशा ही एक ख़तरा बना रहता है। इस बात का ध्यान रखें कि किसी अच्छी और बड़ी कंपनी (company) के पूरक पदार्थों का ही प्रयोग करें और कभी भी बतायी गयी मात्रा से ज़्यादा का सेवन ना करें।
Get it online

2. जिंगो बलाबा का प्रयोग (Ginkgo biloba)

इस जड़ीबूटी का मुख्य रूप से याददाश्त बढ़ाने के लिए प्रयोग किया जाता है, पर यह रक्त के संचार में भी मदद करता है और आपके गुप्तांग में रक्त के संचार में वृद्धि करने में भी काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। एक शोध के मुताबिक़ ये जड़ीबूटी उन पुरुषों की काफी मदद करती है जो तनाव दूर करने वाली गोलियां खाते हैं, जिससे उनकी सम्भोग की शक्ति प्रभावित होती है। एक और शोध ने यह पाया है कि जिंगो का कोई भी प्रभाव नहीं होता है। वैज्ञानिक प्रमाणों से कुछ ख़ास साबित नहीं होता, पर क्योंकि जिंगो याददाश्त में वृद्धि करता है और इसके साइड इफेक्ट्स (side effects) काफी कम होते हैं, अतः आप इसका प्रयोग कर सकते हैं।

  • आप जिंगो का सेवन चाय या पूरक पदार्थ के रूप में कर सकते हैं। इस जड़ीबूटी के ये दोनों प्रकार स्वास्थ्य संबंधी भोजन की दुकानों पर उपलब्ध होते हैं।
  • अगर आपको मिर्गी के दौरे पड़ते हैं या अकडन का सामना करना पड़ता है, या फिर आप रक्त को पतला करने वाली दवाइयां खा रहे हैं तो जिंगो के पूरक पदार्थ ना लें। अपने डॉक्टर से परामर्श करके यह तय करें कि ये आपके लिए सुरक्षित है या नहीं।
Get it Online

3. मका के पूरक पदार्थ (Maca suppliments)

यह पदार्थ आपके सम्भोग की शक्ति और इच्छा को बढ़ाने का काम करता है। इसमें फोटोकेमिकल्स माकामाइड्स और माकेंस (photochemicals macamides and macaenes) मौजूद होते हैं जो शक्ति बढ़ाने और पुरुषों के गुप्तांग को उत्तेजित करने में काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। क्योंकि इस उत्पाद पर कोई ठोस वैज्ञानिक शोध नहीं किया गया है, अतः आपके लिए संभलकर इसका प्रयोग करना ज़रूरी है। इस उत्पाद को रोज़ाना की दिनचर्या का भाग बनाने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह अवश्य कर लें।

Get it Online

4. एल आर्जीनाइन लेने की सोचें (L-arginine)

यह एक एमिनो एसिड (amino acid) है जो रक्त के संचार में वृद्धि करता है और आपके गुप्तांग को उत्तेजित होने में मदद करता है। एक शोध के अनुसार इस पूरक पदार्थ को 6 हफ्ते तक प्रयोग में लाने के बाद  पुरुषों को फायदे प्राप्त हुए। यह प्राकृतिक खाद्य पदार्थों की दुकानों पर उपलब्ध है और इसकी प्रस्तावित खुराक 1 ग्राम है जिसे आपको दिन में 3 बार लेनी  पड़ती है।

अगर आप अपने ह्रदय के लिए नाइट्रोग्लिसरीन (nitroglycerin) का प्रयोग कर रहे हैं तो इस पूरक पदार्थ का प्रयोग ना करें, क्योंकि इससे आपके रक्तचाप में काफी कमी आती है। अपने डॉक्टर से इसे लेने संबंधी सलाह करें।

Get it Online

5. तरबूज़ खाएं (Watermelon)

यह कोई जड़ीबूटी नहीं है, पर इसमें ऐसे गुण होते हैं जो आर्जीनाइन की तरह आपके उत्तेजित गुप्तांग के आकार और समय को बढ़ाने में मदद करते हैं। तरबूज़ में एमिनो एसिड होता है जिसे सिटरुलिन (citrulline) कहते हैं। यह एक नया पाया गया पदार्थ है, अतः इस बात पर कोई शोध नहीं हुआ है कि यह कितना अच्छा काम करता है या फिर कितने तरबूज़ खाकर आपको फायदे देखने को मिलेंगे। लेकिन, क्योंकि तरबूज़ को पुरुषों के स्वास्थ्य के लिए काफी लाभकारी माना गया है, अतः इसके मौसम में आपके इसका अधिक मात्रा में सेवन करने से भी कोई हानि नहीं होगी।

आकार को बढ़ाने वाले प्राकृतिक उपायों का प्रयोग (Natural tips to increase size)

धूम्रपान से परहेज करें (Avoid smoking)

आपके गुप्तांग का आकार, चाहे वह सामान्य हो या उत्तेजित, इस बात पर निर्भर करता है कि इसमें कितनी मात्रा में रक्त मौजूद है। तम्बाकू युक्त उत्पादों का प्रयोग करने पर आपके शरीर की धमनियां पतली हो जाती हैं जिससे आपके गुप्तांग में रक्त का संचार कम हो जाता है। अगर आप धूम्रपान करते हैं तो इससे आपके गुप्तांग के आकार के बढ़ने पर काफी नकारात्मक असर पड़ता है।

रोज़ाना व्यायाम करें (Workout daily)

अपने शरीर की हरकत करने से आपके रक्त का स्वास्थ्यपूर्वक संचार होता है, जिससे वे धमनियां मज़बूत होती हैं जो आपके गुप्तांग तक रक्त को पहुंचाती हैं। अगर आप बिल्कुल भी व्यायाम नहीं करेंगे तो आपका गुप्तांग अपनी क्षमताओं का पूर्ण उपयोग नहीं कर पाएगा। दिन में करीब 1 घंटा व्यायाम करने की आदत डालें। चाहे आप तैराकी करें, चहलकदमी करें या फिर ऐसे ही कहीं घूमने निकल पड़ें, किसी भी तरह का व्यायाम आपके गुप्तांग में रक्त के संचार को बढ़ाने में सहायता करता है।

लेकिन गुप्तांग का प्रयोग करके व्यायाम करने का कोई ऐसा तरीका नहीं है जिससे इसे बड़ा किया जा सके। गुप्तांग नरम मांसपेशियों से बना होता है जो व्यायाम से बड़ा नहीं हो पाता।

कूल्हों के भाग का व्यायाम (Butts workout)

आप गुप्तांग का प्रयोग करके व्यायाम तो नहीं कर पाएंगे, पर अगर आप अपने कूल्हों को मज़बूत कर लें तो आपका शरीर आसानी से आपके गुप्तांग में रक्त का संचार कर सकता है। कूल्हों का भाग नसों पर दबाव डालता है जो गुप्तांग के उत्तेजित होने के समय रक्त को गुप्तांग से जाने से रोकता है। आप केगेल (kegel) व्यायामों के माध्यम से अपने कूल्हों को मज़बूत कर सकते हैं। एक शोध के अनुसार जो पुरुष केगेल व्यायाम करते हैं, उन्हें उन पुरुषों के मुकाबले सम्भोग की क्रियाएं करने में ज़्यादा आसानी होती है जो  अपनी जीवनशैली में अन्य परिवर्तन तो करते हैं पर व्यायाम नहीं करते।

  • अपने कूल्हे की मांसपेशी का पता लगाने के लिए उस मांसपेशी को कस लें जिसका प्रयोग आप मूत्र रोकने के लिए करते हैं।
  • इस मांसपेशी को कसकर 8 बार छोड़ें। फिर विश्राम करें और इसे 8 बार और करें। ऐसा तब तक करें जब तक आप ये 3 से 4 बार ना कर लें।
  • अच्छे परिणामों के लिए यह व्यायाम दिन में एक बार करें।

पेट की चर्बी घटाएं (Cut down belly fat)

अगर आपके गुप्तांग को पेट की ढीली चमड़ी ऊपर से ढककर रखती है तो यह असल से छोटा दिखता है। पेट की चर्बी घटाना कोई आसान काम नहीं है, पर गुप्तांग के आकार को बड़ा दिखाने में यह काफी बड़ी भूमिका निभाता है। वज़न घटाने के उपाय करना शुरू कर दें और आपको अन्य क्षेत्रों में काफी बेहतरी दिखेगी। एक शोध के अनुसार जिन पुरुषों के कमर का आकार 42 इंच होता है, उन्हें 32 इंच की कमर वाले पुरुषों की तुलना में गुप्तांग से ज्यूसी समस्याएं ज़्यादा पेश आती हैं।

  • रोज़ाना व्यायाम करने से आपका वज़न घट सकता है। कार्डियो (cardio) और वज़न उठाने से जुड़े व्यायाम करें।
  • साबुत भोजन जैसे लीन मीट (lean meat), मछली, साबुत अनाज, फलियां, सब्ज़ियां, फल और स्वास्थकर तेलों का सेवन करें।
  • तले और डिब्बाबंद भोजन, अतिरिक्त चीनी और स्टार्च (starch) तथा हाइड्रोजेनेटेड तेलों (hydrogenated oils) से परहेज करें।

गुप्तांग का आकार बढ़ाने वाले यंत्रों का प्रयोग (Enhancing devices)

ऐसे कुछ सरल और हानि से रहित यंत्र हैं जिनकी मदद से आपके गुप्तांग का आकार इतनी मात्रा में बढ़ने में सहायता मिलती है कि आप सम्भोग का आनंद ले सकें। अगर आप बिना किसी दवा या अन्य किसी उपचार की मदद लिए बिना बड़ा गुप्तांग प्राप्त करना चाहते हैं तो नीचे दिए गए यंत्रों में से एक का  प्रयोग करें : –

  • गुप्तांग की रिंग (ring)। यह आपके गुप्तांग के उत्तेजित होने की स्थिति में रक्त को रोककर रखने का काम करती है। इससे अस्थायी रूप से आपका गुप्तांग लंबा और कड़ा हो जाता है।
  • गुप्तांग के लिए पंप (pump)। यह एक वैक्यूम (vacuum) पैदा करने वाला यंत्र है जिसे गुप्तांग के चारों ओर लगाया जाता है। जब आप इस पंप का प्रयोग करते हैं तो यह गुप्तांग में रक्त को ले आता है और इसे अस्थायी रूप से खड़ा रखता है।

परहेज़ करने वाली चीज़ का पता होना (What to avoid)

ऐसे उत्पादों से दूर रहें जो गुप्तांग का आकार बढ़ाने का दावा करते हैं (Keep distance from lucrative tips and offers)

क्योंकि बड़े गुप्तांग की इच्छा इतनी तीव्र होती है, अतः इसे पूरा करने का दावा करने वाले ऐसे कई ठग भी हैं जो अपने वादों को पूरा नहीं कर सकते। ऐसी कोई जादू की छड़ी नहीं है जो आपके गुप्तांग को बड़ा बना दे। यह पूरी तरह से आनुवांशिक होता है। ऐसी किसी कंपनी के पल्ले पड़कर अपने पैसे और स्वास्थ्य को बर्बाद ना होने दें जो अपने उत्पाद से आपके गुप्तांग को बड़ा बनाने का दावा करते हैं।

आयुर्वेदिक वियाग्रा के उत्पादों से दूर रहें (So called herbal viagra)

ये कई जड़ीबूटियों का मिश्रण होते हैं जो गुप्तांगों में रक्त का संचार करते हैं। पर क्योंकि ये FDA द्वारा स्वीकृत नहीं हैं, अतः इनके साइड इफेक्ट्स के बारे में जानना काफी मुश्किल होता है। एक समय में एक ही जड़ीबूटी का प्रयोग करें और अपनी खुराक पर नियंत्रण रखें जिससे कि गलती से ज़्यादा खुराक ना ले ली जाए।

  • भले ही ऐसे उत्पादों को बेचने वाली वेबसाइट (website) जाली ना लगे, फिर भी ऐसे उत्पाद अपने लिए ना मंगवाएं।
  • अगर आपने ऐसा कोई उत्पाद खरीद लिया है तो काफी सावधान रहें। अपने डॉक्टर से सलाह किये बिना गुप्तांग के आकार में वृद्धि का दावा करने वाले किसी भी उत्पाद का प्रयोग न करें।

अपने गुप्तांग पर वज़न या खिंचाव का प्रयोग ना करें (Do not do any crazy thing with your private part)

ये दोनों तरीके गुप्तांग की लंबाई बढ़ाने का दावा करते हैं और कई सूरतों में इनके दावे सही भी साबित हुए हैं। पर इससे आपका गुप्तांग जितना लंबा होता हैं, उतना ही पतला भी होता जाता है। ये दोनों तरीके गुप्तांग की चौड़ाई को कम कर देते हैं। सिर्फ शल्य क्रिया के बाद, जब घाव की कोशिकाओं के जमाव से आपको बचना होता है, ही आप गुप्तांग के खिंचाव के विकल्प का प्रयोग कर सकते हैं।

शल्य क्रिया करवाने से पहले अच्छे से सोच लें (Think before going under knife)

गुप्तांग का आकार बढ़ाने के लिए शल्य क्रिया करवाने के काफी साइड इफेक्ट्स होते हैं। इससे गुप्तांग की लंबाई तो बढ़ जाती है, पर इसके कार्य करने की शैली काफी बुरी तरह प्रभावित होती है। एक बार गुप्तांग को बड़ा करने की शल्य क्रिया करने के बाद आपका गुप्तांग शरीर से अलग नहीं दिखता, बल्कि यह दो पैरों के बीच झूलता सा प्रतीत होता है। कई बार तो यह अपनी उत्तेजित होने की क्षमता भी खो बैठता है। अतः आपके लिए प्राकृतिक उपायों का प्रयोग करना एक बेहतर विकल्प साबित होता है।

अगर आपका गुप्तांग काफी छोटा है तो इसमें बढ़ोत्तरी करने के लिए शल्य क्रिया को अंजाम दिया जाता है। ऐसी स्थितियों में शल्य क्रिया फायदेमंद होती है। लेकिन मध्यम आकार के गुप्तांग पर शल्य क्रिया करने पर गुप्तांग के उत्तेजित होने में कमी, दाग धब्बे और आकार में बदलाव आने जैसी तकलीफें हो सकती हैं।