Erection tips in Hindi – How to make strong erections

मैं 19 वर्ष का हूँ और मैंने कभी संभोग नहीं किया है। मेरी एक प्रेमिका है जिसके साथ मैं 5 महीनों से सम्बन्ध में हूँ। हम एक दूसरे से काफी प्यार करते हैं और एक दूसरे के साथ काफी सहज भी महसूस करते हैं। हमने कई बार संभोग करने की भी कोशिश की, पर जब भी लैंगिक क्रिया की बात आई तो मुझे अपने गुप्तांग को उत्तेजित रखने में काफी कठिनाई होती है। मुझे पहले कभी ऐसी समस्या पेश नहीं आई और मैं काफी आसानी से उत्तेजित भी हो जाता हूँ। हमने हर तरह की संभोग पूर्व काम क्रिया आजमाकर देख ली पर फिर भी कोई फायदा नहीं हुआ। यह काफी परेशान करने वाली बात है और मुझे बार बार उसके सामने असफल होने में काफी शर्म आती है। कृपया कोई सुझाव दें।

उत्तर – अगर आप शारीरिक रूप से स्वस्थ हैं तो आपके उत्तेजित होने की समस्या संभोग के दौरान अच्छा प्रदर्शन करने की बेचैनी से जुड़ी हुई है। दूसरे शब्दों में उनको खुश करने, बिस्तर पर अच्छा प्रदर्शन करने और गुप्तांग को उत्तेजित करने के लिए आप बेचैन हो रहे हैं। जवान एवं किशोरों के लिए पहली बार लिंग की उत्तेजना को गंवाना काफी सामान्य है। इसका यह मतलब नहीं है कि आपके साथ शारीरिक रूप से कोई समस्या है, हालांकि साल में एक बार डॉक्टर से जांच करवाने में कोई दोष नहीं है। इसका यही अर्थ निकलता है कि आप संभोग को लेकर थोड़े से बेचैन हैं और इसीलिए आप्केलिंग की उत्तेजना में कमी आ रही है।

कुछ नुस्खे (Erection tips in Hindi)

  • भले ही आपने संभोग पूर्व की कई क्रियाएं आजमा ली हैं, उन क्रियाओं का प्रयोग ज़्यादा करें जो आपको पसंद है और जिनसे आप उत्तेजित होते हैं। अगर आप कोई चीज़ सिर्फ इसलिए कर रहे हैं क्योंकि आपको वो करनी चाहिए तो इससे आपको कोई फायदा नहीं होगा। पर अगर आप दोनों अपनी पसंदीदा चीज़ करते हैं तो इससे काफी लाभ मिलेगा।
  • आप अवश्य कंडोम (condom) का प्रयोग करते होंगे। अगर हाँ तो इस बात को सुनिश्चित करें कि यह आपके गुप्तांग में अच्छे से समा जाए। सही प्रकार से गुप्तांग पर ना आने वाला कंडोम एक पुरुष के लिंग की उत्तेजना को कम कर सकता है या फिर इसे काफी परेशानी भरा अनुभव बना सकता है। अगर आपका कंडोम काफी कसा हुआ या उत्तेजना से रहित लगता है तो ट्रोजन एक्सटेसी कंडोम्स (trojan ecstasy condoms) का प्रयोग करें। ये आपके गुप्तांग पर काफी आराम से आ जाते हैं। अगर कंडोम कुछ ज़्यादा बड़ा है और आपको डर है कि यह निकलकर गिर जाएगा तो किसी कसे हुए कंडोम का प्रयोग करें। इसके अलावा आपके सम्भोग को बेहतर बनाने का दावा करने वाले कंडोम्स से भी बचकर रहें। ये आपके गुप्तांग को उत्तेजना से बचाने के लिए सुन्न कर देते हैं और इसलिए आप लम्बे समय तक संभोग कर पाते हैं। लेकिन कई पुरुषों को इसके प्रयोग से उत्तेजना में काफी फर्क दिखता है और धीरे धीरे गुप्तांग की उत्तेजना में भी बाधा पहुँचती है।
  • हस्तमैथुन तथा संभोग शुरू होने से पहले मस्तिष्क में इसके बारे में सोचें। अपने दिमाग में इस पूरी प्रक्रिया की रूपरेखा बना लें, मसलन अपनी प्रेमिका का चुम्बन लेना, कुछ देर तक उसके शरीर को सहलाना और चूमना, संभोग पूर्व की सभी क्रियाएं करना आदि। अंत में खुद को उनके साथ संभोग की प्रक्रिया का आनंद लेता हुआ चित्रित करें।
  • अगर आप दोनों ने इससे पहले कभी संभोग नहीं किया है तो किसी चिकनाई वाले पदार्थ के इस्तेमाल की सोचें। पहली बार संभोग के दौरान एक महिला काफी बेचैन होती है, जिससे उसकी मांसपेशियों में कसावट आ जाती है और उसके जननांग का द्वार भी कस जाता है। बेचैन होने की वजह से उसके जननांगों से द्रव्य की उत्पत्ति भी नहीं होती। अगर आप कंडोम का प्रयोग कर रहे हैं तो उसे अपने कंडोम के ऊपर पानी आधारित चिकने पदार्थ का इस्तेमाल करने के लिए कहें। इससे उत्तेजना में काफी वृद्धि होगी और आपकी संभोग पूर्व काम क्रिया में भी निखार आएगा। इससे संभोग में भी आसानी होगी और लिंग की उत्तेजना लम्बे समय तक बरकरार रहेगी।
  • तनावमुक्त रहें। जी हाँ, संभोग करना शुरुआत में काफी बड़ी बात लग सकती है, पर यह कोई ऐसी चीज़ नहीं है जो आप नहीं कर सकते। आपको धीरे धीरे इसके बारे में सब कुछ पता चल ही जाएगा। ज़्यादातर लोग इस प्रक्रिया को गलती कर करके ही सीखने में कामयाब होते हैं। यह ठीक किसी नयी विधि को सीखने जैसा है, जिसे बिना अभ्यास के आप नहीं सीख सकते। एक बार आपको यह प्रक्रिया समझ में आ जाने पर आप ये सारी ज़िन्दगी काफी आसानी से कर सकते हैं। अतः तनाव ना लें। लम्बी सांसें लें। अगर आपके मन में बहुत सी बातें चल रही हैं तो खुद को संतुलित करें तथा मन को समझाएं। खुद को प्रोत्साहित करने का प्रयास करें और हर एक लम्हे का पूरा आनंद लेने की कोशिश करें।