Hindi tips to avoid premature ejaculaiton

आपको कैसा प्रतीत होगा अगर हम आपको यह बताएँ कि एक ऐसी चीज़ है जिससे सम्भोग के दौरान चरम आनंद या ऑर्गेज़म प्राप्त करने की आपकी संभावनाएं काफी बढ़ जाती हैं। जी हाँ, ऐसी एक विधि सच में है। इंडिआना विश्वविद्यालय (indiana university) में हुए एक शोध के मुताबिक़ करीब 50% पुरुष और महिलाएं, जिन्होंने किसी चिकनाई वाले पदार्थ का प्रयोग किया है, मानते हैं कि इससे चरम आनंद प्राप्त करने में आसानी होती है।

अगर आपके शरीर से प्राकृतिक रूप से चिकनाई युक्त पदार्थ निकलता है तो यह इस बात की निशानी है कि आप काफी कामुक अवस्था में हैं, पर अगर चिकनाई और तरल पदार्थों की शरीर से निकलने की मात्रा में काफी वृद्धि हो जाए तो इससे आपका और भी ज़्यादा कामुक होना तय हो जाता है। इसके अलावा इस समय होने वाला चिकनाई वाला अहसास आपको सही मात्रा में घर्षण प्रदान करता है। इसके अलावा कोई और चिकनाई वाला द्रव्य इस्तेमाल करने से आपको कई नयी प्रकार की उत्तेजनाएं प्राप्त होती हैं। क्या आपको और भी सबूत चाहिए कि अब समय आ गया है कि आप किसी चिकनाई युक्त पदार्थ का इस्तेमाल करें! करीब 80 प्रतिशत से ज़्यादा उपभोक्ताओं ने कबूल किया है कि चिकनाई वाले पदार्थों का इस्तेमाल करने के बाद उनकी कामुक इच्छाओं में काफ़ी इज़ाफ़ा हुआ है।

कई महिलाओं को गहरे तथा प्रभावी चरम आनंद की उपलब्धि करने में काफी समस्या होती है और कई तो चरम आनंद को प्राप्त ही नहीं कर पाती हैं। लेकिन चरम आनंद या ऑर्गेज़म को प्राप्त करना या इनके प्रभाव को गहरा बनाने का काम आपको खुद करना होता है। इसी को महिला स्वतंत्रता तथा शक्ति से जोड़कर देखा जाता है।

नीचे आपके चरम आनंद को गहरा तथा खुशनुमा बनाने के कुछ नुस्खे दिए गए हैं

रोज़ाना हस्तमैथुन करें (Masturbate)

इससे पहले कि आप सम्भोग के माध्यम से चरम आनंद की प्राप्ति का प्रयास करें, खुद को कामुक भाव से छूना और आनंद प्रदान करना सीखें। हस्तमैथुन के कई गुण होते हैं जिनमें आनंद की प्राप्ति, गहरा शारीरिक सुख, स्वतंत्रा तथा किसी पर निर्भर ना रहने का भाव शामिल होता है।

अंदरूनी उत्तेजना पर ध्यान लगाएं (Heart on inner arouse)

हस्तमैथुन करना सिर्फ एक शुरुआत है। यह काफी ज़रूरी है कि आप अपने शरीर के प्रति जागरूक रहें तथा इससे प्यार करना सीखें। इसके लिए आतंरिक उत्तेजना काफी ज़रूरी है। स्पंदन रहित डिल्डो (dildo) या अपनी उँगलियों का इसके लिए प्रयोग करें।

क्लिटोरिस से आगे बढ़ें (Go apart from the clitoris)

क्लिटोरिस के ज़रिये चरम आनंद प्राप्त करने में कोई बुराई नहीं है, पर अंदरूनी संतुष्टि के मुकाबले इससे काफी कम आनंद प्राप्त होता है। अपने क्लिटोरिस में अवश्य उत्तेजना पैदा करें, पर अंदरूनी रूप से आनंद प्राप्त करने पर ध्यान दें और ऐसे चरम आनंद की सृष्टि करें जिसका असर सारे शरीर पर हो।

पेट के ज़रिये गहरी सांस लेने की चेष्टा करें (Go doing deep belly breathing)

ज़्यादातर लोग अपने पेट की बजाय अपनी छाती में सांस छोड़ते हैं। पेट के ज़रिये गहरी सांसें लेने से आपके फेफड़ों में ज़्यादा हवा का संचार होता है और शरीर में ज़्यादा ऊर्जा आती है। इससे आप अपने जननांगों के प्रति और भी ज़्यादा जागरूक होती हैं। विभिन्न प्रकार की गति से सांस लेने की कोशिश करें और सिर्फ मुंह से सांस लेने का भी प्रयास करें।

लगातार आवाज़ निकालते रहें (Do regular harmony)

आवाज़ें निकालने से गला खुलता है, जबड़े को आराम मिलता है तथा आपको लंबी तथा गहरी सांस लेने में काफी आसानी होती है। आवाज़ें निकालने से आपको आनंद की प्राप्ति भी होती है, भले ही आपको लग रहा हो कि आप नकली आवाज़ें निकाल रही हैं। विभिन्न प्रकार की आवाज़ों के साथ प्रयोग करें- कामुक, भोली भाली या काफी आकर्षक।

कूल्हों की गतिविधियों को नियंत्रित करें (Butts movements)

अपने कूल्हों की गतिविधियों में विभिन्न प्रयोग करने से कामुक भाव तथा आनंद जागता है एवं हो सकता है कि आपको चरम आनंद की भी प्राप्ति हो जाए। यह सम्भोग के दौरान आपके आनंद में भी काफी इज़ाफ़ा करता है। कूल्हों को आगे पीछे, एक से दूसरी तरफ, गोलाकार मुद्रा, हिलने डुलने तथा उछालने के साथ प्रयोग करें।

आनंद के क्षण से पहले रूकने का प्रयास करें (Try edging)

इस स्थिति की खासियत यह है कि खुद को उत्तेजित करने और चरम आनंद की स्थिति आने से ठीक पहले रूक जाने से आप आनंद के सर्वश्रेष्ठ चरण पर पहुँचने की बजाय इसकी एक स्थिति का अनुभव करेंगे। इससे आपको पहले कभी ना होने वाले ऑर्गेज़म की अनूभूति होगी।

केगेल व्यायाम का अभ्यास करें (Kegel exercises)

यह आपकी योनि के स्वास्थ्य के लिए तथा प्रभावी ऑर्गेज़म की अनूभूति के लिए काफी अच्छा साबित होता है। यह बच्चे को जन्म देने के पहले और बाद में किया जा सकने वाला काफी प्रभावी व्यायाम है। इस बात का ध्यान रखें कि इन ख़ास मांसपेशियों को पूरा आराम प्राप्त होना चाहिए।

उत्तेजना की हर अनूभूति का पूरा आनंद लें (Learn to appreciate all the sensations)

हर क्षण या ख़ुशी व्यक्त करने के माध्यम – गुदगुदी, गर्मी का अनुभव, नब्ज़ का तेज़ होना, रोंगटे खड़े होना – को चरम आनंद का एक छोटा रूप समझें। हर एक ऐसे कामुक क्षण का पूरा आनंद लेने की चेष्टा करें।

अपने फेरोमोन्स को काम करने दें (Let your pheromones do the work)

महिलाएं जब शरीर की  हरकत करती हैं तो काफी आसानी से उत्तेजित हो जाती हैं, वहीँ पुरुष आराम के क्षणों में काफी आसानी से उत्तेजित होते हैं। हस्तमैथुन करने या सम्भोग की प्रक्रिया में लिप्त होने के आधे घंटे पहले नृत्य या व्यायाम करें। इससे आपके शरीर में नयी ऊर्जा आएगी और सम्भोग के दौरान आप जल्दी उत्तेजित होंगी। इस समय कोशिश करें कि स्नान ना किया जाए क्योंकि पसीने की महक, स्वाद और फेरोमोन्स आपको और आपके साथी को उत्तेजित करती है।

अपने शरीर को तनावमुक्त रखें (Body into relaxed state)

जब आप हस्तमैथुन या सम्भोग की प्रक्रिया में रत होती हैं तो इस बात को सुनिश्चित करें कि आप वीर्यस्त्राव तथा ऑर्गेज़म की स्थिति को प्राप्त करने के लिए ज़्यादा चिंतित या तनावयुक्त ना हों। इस तरह चरम आनंद प्राप्त करने की चेष्टा ना करें, बल्कि अपने शरीर, इस अहसास और क्षण का पूरा आनंद लेने की खुद को आज़ादी दें। अपने शरीर में हो रही उत्तेजनाओं को महसूस करें और अपने साथी को यह मौक़ा दें कि वह आपको शारीरिक रूप से संतुष्ट कर सके।

आनंद का पूरा भोग करें (Surrender to the pleasure)

असल में ऑर्गेज़म सही अर्थों में आनंद की अनुभूति के लिए खुद को प्रस्तुत करना होता है, और अगर आपको गहराई से आनंद चाहिए तो इसकी अनूभूति भी गहरी होनी चाहिए। हस्तमैथुन या सम्भोग की प्रक्रिया के पहले या बाद में खुद को इस अनूभूति में झोंकने के लिए पूरी तरह तैयार रहें।

शीघ्रपतन एक ऐसी समस्या है जिससे सारे विश्व भर के पुरुष पीड़ित हैं।  यह एक ऐसी समस्या है जहां एक पुरुष का वीर्य सम्भोग से पहले ही निकल जाता है, क्योंकि सम्भोग क्रिया से पहले या ठीक बाद ओर्गस्म (orgasm) की स्थिति तक पहुँच जाता है। यह समस्या पुरुषों एवं स्त्री दोनों के लिए तनाव का कारण होती है और इसके फलस्वरूप एक महिला कभी भी शारीरिक तौर पर पुरुष से पूरी तरह संतुष्ट नहीं होती है।

दवाइयों एवं अन्य केमिकल्स (chemicals) का प्रयोग करने की बजाय, पुरुष शीघ्रपतन रोकने के लिए जड़ीबूटियों की सहायता ले सकते हैं, क्योंकि यह समस्या दूर करने में जड़ीबूटियाँ काफी सहायक होती हैं। नीचे शीघ्रपतन रोकने के लिए मौजूद 7 श्रेष्ठ जड़ीबूटियों के बारे में बताया गया है.

Herbs For Premature Ejaculation – शीघ्रपतन रोकने के लिए जड़ीबूटियाँ

Ashwagandha – अश्वगंधा

अश्वगंधा को विथानिया सोम्नीफेरा (Withania Somnifera) के नाम से भी जाना जाता है, क्योंकि यह एक व्यक्ति के शरीर में मौजूद तनाव एवं बेचैनी को कम करने के लिए विख्यात है। यह काफी आम जड़ीबूटियों में से एक है जिनका प्रयोग शीघ्रपतन पर नियंत्रण करने एवं एक पुरुष की सम्भोग क्षमता को बढ़ाने में किया जाता है।

यह आपके वीर्य की मात्रा एवं गुणवत्ता को भी बढ़ाता है तथा काफी कामोत्तेजक औषधि भी है। हालांकि, जब भी आप किसी जड़ीबूटी का सेवन करें, तो किसी प्राकृतिक चिकित्सक की भी राय लें जो आपको सही खुराक के बारे में अच्छे से बता पाएंगे।

Ashwagandha

[Buy it online]

Oat Straw (Avena sativa) – जई का डंठल

जई के डंठल में सेरोटोनिन (serotonin) नामक एक कंपाउंड (compound) होता है जो एक व्यक्ति के शरीर में मौजूद तनाव एवं बेचैनी के स्तर को कम करता है, जो शीघ्रपतन के प्रमुख कारणों में से एक होती हैं। इस जड़ीबूटी का सेवन करने के बाद, एक व्यक्ति तनाव एवं चिंताओं से मुक्त हो जाता है तथा सम्भोग की क्रिया में किसी भी तरह की परेशानी का अनुभव नहीं करता है।  इससे काफी हद तक शीघ्रपतन की समस्या भी दूर होती है।

Avena sativa

[Buy it online]

Asparagus Adscendens (Safed Musli) – ऐस्पैरागस एडसेंडेंस – ऐस्पैरागस एडसेंडेंस

सफ़ेद मुस्ली के नाम से विख्यात इस जड़ीबूटी को सम्भोग की क्रिया को बढ़ावा देने वाले काफी शक्तिशाली औषधि के रूप में जाना जाता है तथा इसका प्रयोग कामोत्तेजक औषधि के तौर पर भी किया जाता है।  यह पुरुषों के सम्भोग के अंग को ऊर्जा प्रदान करती है एवं उस भाग में रक्त के प्रवाह में काफी वृद्धि करके शीघ्रपतन होने से रोकती है। कई लोगों ने शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाने के लिए भी इसका प्रयोग किया है।

Asparagus Adscendens

[Buy it online]

Shilajit – शिलाजीत

इस जड़ीबूटी का पुरुषों के प्रजनन अंगों पर काफी बेहतरीन असर देखा गया है एवं इसका प्रयोग शुक्राणुओं की घटती संख्या और शीघ्रपतन जैसी समस्याओं को ठीक करने के लिए काफी मात्रा में किया जाता है।  यह काम क्रिया के समय पुरुषों को अतिरिक्त ऊर्जा भी प्रदान करती है।  यह हिमालय के पर्वतों में पायी जाती है एवं इसे खनिज पदार्थों के साथ मिलाकर एक विशेष जड़ीबूटी बनायी जाती है।

shilajit

[Buy it online]

Peppermint Oil – पुदीने का तेल

पुदीने का तेल एक ऐसी जड़ीबूटी है जिसका सेवन नहीं किया जाता बल्कि इसे पुरुष के लिंग पर लगाया जाता है।  अपने सम्पूर्ण लिंग पर इस तेल से अच्छे से मालिश करने से वह भाग सुन्न पड़ जाता है एवं इससे आपके वीर्य के बाहर आने के समय में काफी वृद्धि होती है। इस तेल की महक भी काफी कामोत्तेजक है जो आपको सम्भोग क्रिया में और भी ज़्यादा आनंद प्रदान करेगी।

Peppermint Oil

[Buy it online]

Mucuna Pruriens (Kavach Beej)- म्युकुना प्रुरियेंस (कवच बीज)

कवच बीज भी एक जाँची परखी जड़ीबूटी है जो आपके शुक्राणुओं की संख्या काफी मात्रा में बढ़ाकर शीघ्रपतन रोकती है एवं आपकी कामशक्ति में भी काफी वृद्धि करती है।  यह एक व्यक्ति के सम्भोग की इच्छा को भी काफी बढ़ाती है तथा उसे सम्भोग के लिए तत्पर बनाए रखती है।

Mucuna Pruriens

[Buy it online]

Garlic – लहसुन

लहसुन भी शीघ्रपतन पर नियंत्रण करने एवं इसे ठीक करने के लिए काफी प्रभावी साबित होती है। इसकी महक काफी तेज़ और बदबूदार होती है, परन्तु प्रजनन प्रणाली को सुचारू रूप से चलाये रखने में यह काफी प्रभावी साबित होता है।  लहसुन बांझपन को दूर करने का जांचा परखा उपाय साबित हुआ है एवं काफी हद तक शीघ्रपतन की समस्या को भी ठीक करता है।  इसके अंशों को कामोत्तेजक औषधियों जितना प्रभावी माना जाता है।